ब्रेस्ट का आकार बढ़ाने और उनको सुडौल बनाने के स्वाभाविक सफल उपचार

Views:790370

सही आकृति और फिट आकार वाले शरीर को ही आकर्षक और सुंदर काया माना जाता है और आज की हर महिला फेस ब्यूटी के साथ-साथ एक अच्छी फिट बॉडी चाहती है इसीलिए आधुनिक समाज में अच्छे और सुंदर फेस के साथ-साथ सुडौल और बड़े स्तनो को आकर्षक शारीरिक विशेषताओं में से एक माना जाता है।


आज एक औरत को और अधिक आकर्षक लगने के लिए उसके पास शारीरिक ऊंचाई और वजन से मेल खाते स्तनों की आदर्श जोड़ी का होना आवश्यक माना जा रहा है। अगर छोटे और बड़े स्तन वाली महिला में अंतर की बात करें तो छोटे स्तनों की अपेक्षा सुडौल और बड़े स्तन वाली महिला देखने में तो अधिक सुंदर लगती ही है साथ में बड़े स्तन वाली महिलाओं के अंदर आत्मविश्वास भी अधिक होता है इसी कारण आत्मविश्वास से भरी महिला जहाँ जाती है उनका नैतिक सम्मान भी बढ़ जाता है।





आकर्षक शारीरिक विशेषताओं में सुडौल और बड़े स्तनो के महत्व को समझ कर ही आज महिलाएं स्वाभाविक रूप से स्तन के आकार बढ़ाने के उपाय जानने के लिए उत्सुक रहती है पर ज्यादातर महिलायें स्तन का आकार बढ़ाने लिए महंगी प्रक्रिया सर्जरी को ही चुनती है लेकिन स्तन वृद्धि की प्रक्रिया हमेशा परिणाम प्रदान करने वाली सर्जरी कई बार दुष्प्रभाव भी छोड़ जाती है इसलिए ब्रेस्ट का साइज बढाने के लिए हम कुछ सफल और आसान उपाय लेकर आये है जो ब्रेस्ट का साइज बढाने में आपकी मदद जरुर करेंगे।





नियमित रूप से ब्रेस्ट मसाज करें : नियमित रूप से स्तनों की मालिश स्वाभाविक रूप से स्तन का आकार बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपचार माना जाता है। आप रोजाना ब्रेस्ट बढ़ाने वाले इनलार्जमेंट तेल,हल्के पानी या सूखे हाथो से भी 30 मिनट की मसाज दे कर प्रभावी रूप से सिर्फ एक महीने में स्तन के साइज में वृद्धि कर सकती है।


हाथ की हथेलियों को 6 से 10 सेकंड तक आपस में रगड़ कर पहले हथेलियों में गर्मी और ऊर्जा पैदा कर ले उसके बाद स्तनों को ऊपर उठाते हुए और फिर स्तन को हर तरफ से अच्छी मसाज दे। बेहतर और जल्दी रिजल्ट प्राप्त करने के लिए सुबह और रात में कम से कम 300 की गिनती करते हुए इस नियम का एक महीने तक पालन करें।


इस तरह स्तनों की मालिश से रक्त प्रवाह में वृद्धि होगी और प्रोलैक्टिन के उत्पादन में वृद्धि होगी जिस कारण स्तन विस्तार हार्मोन को प्रोत्साहित करने में मदद मिलेगी और स्तन का आकार स्वाभाविक रूप से बढ़ जायेगा और सभी तरह के कपडे आपके ऊपर पहले से अधिक अच्छे लगेंगे।





आहार : स्तन का आकार शरीरक हार्मोन की अनुपस्थिति पर भी निर्भर करता है। आपके शरीर में अगर पुरुष हार्मोन या टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की उपस्थिति होगी तो यह स्तन विकास में बाधा डाल सकता है। इस हार्मोन के अतिरिक्त बात करे तो एस्ट्रोजन की कमी भी छोटे स्तन के पीछे की एक वजह हो सकती है। इन हार्मोनस पर काबू पाने के लिए सबसे अच्छा तरीका नपा तुला खाद्य पदार्थ ही सकता है। आप अपने संतुलित भोजन में चिकन सूप,मछली,सौंफ बीज, सोयाबिन और सोया से बने अन्य खाद्य पदार्थ सब्जियां,फलियां,फल,अंडे,नट्स के साथ-साथ सूरजमुखी के बीज, तिल के बीज और सन बीज भी शामिल कर सकती है।





कसरत और योग
: सुडौल और बड़े आकार के स्तन पाने में कसरत और योग हमेशा ही सबसे उपयोगी साबित हुए है। स्तन मांसपेशियों के बढ़ाने के लिए आप पुश-अप,डम्बल से ब्रेस्ट प्रेस,वाल प्रेस,स्विंगिंग आर्म्स के साथ-साथ घर पर गोमुखासन,उष्ट्रासन,वृक्षासन,द्विकोणासन आदि योग का अभ्यास सुडौल और अधिक आकर वाले स्तन प्राप्त करने के लिए कर सकती है। ये सभी कसरत और योग आपको शारीरिक ताजगी देने के साथ-साथ शरीर से तनाव भी दूर कर देंगे।





कपड़ों का सही चुनाव करें
: अपने छोटे स्तनों को उजागर करने के लिए हमेशा छोटे या गलत फिटिंग वाले ब्रा पहनना आपकी ब्रेस्ट स्वाथ्य के लिए हानिकारक हो सकता हैइसलिए स्तनों को बड़े और फुले हुए देखने के लिए आप गद्देदार ब्रा की मदद ले सकती है पर घर पर रहते हुए या अधिक समय तक ऐसी ब्रा को पहनना आपके ब्रेस्ट और स्वास्थ्य दोनों के लिए गलत हो सकता है।


इन सरल और सफल उपचारों को अपनी दिनचर्या में शामिल कर और कुछ सप्ताह की प्रतीक्षा के बाद आप पाएंगी कि आपके स्तन का आकर पहले से सफलतापूर्वक बढ़ गया है। ये ब्रेस्ट इनलार्जमेंट टिप्स आपके आत्मविश्वास को बढ़ावा देने,आपको अधिक लोगों की नजर में लाने,फिट और आकर्षक बॉडी शेप देने में अहम योगदान भी देगा।

और पढ़े

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Category

अनुष्का शर्मा से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य


अस्थमा


आँखों की देखभाल


आयुर्वेदिक होम टिप्स


आलिया भट्ट का डाइट प्लान


एनीमिया


एलर्जी


औरत के लिये


कद बढाने के टिप्स


किशोर


कैंसर


कैटरीना कैफ से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य टिप्स


कोल्ड


क्रॉस लेग पोजीसन में बैठना


गर्दन


गर्भपात


गर्भावस्था


गर्मियों में त्वचा की देखभाल


गर्मी


घुटनों के टिप्स


झाइयां


झुर्रियाँ


डायबिटीज


डिप्रेशन


डेंगू


तनाव


त्यौहार


त्वचा


त्वचा की देखभाल


दाँतों की देखभाल


दिमाग की याददाश्त और शक्ति को बढाने के टिप्स


दिल की बीमारी


दुल्हन


नींबू पानी फायदे


पसीने की दुर्गन्ध से छुटकारा पाने के टिप्स


पालन पोषण


पिंपल


पीरियड


पुरुषों के स्वास्थ्य के टिप्स


पेनिस


पेशेंट की कहानियां


पैरों की देखभाल


फलो के लाभ


फिट रहने के उपाय


बच्चे


बच्चों की देखभाल के टिप्स


बट का आकर बढ़ाने वाले टिप्स


बट मुँहासे के लिए टिप्स


बालों की देखभाल


बीज


बेबी


ब्रेस्ट


ब्रेस्ट हेल्थ टिप्स


महिला स्वास्थ्य के टिप्स


महीना वाइज टिप्स


मानसिक विकार


मुँहासे


मुहांसों से बचाव


मूत्र रंग


मेकअप


योग


वजन घटाने के टिप्स


वजन बढ़ाने के टिप्स


व्यायाम और योगा


सुंदरता से संबंधित टिप्स


सेक्स


सेक्स संबंधित समस्या


सेक्सी पीठ


सेलिब्रिटी हेल्थ टिप्स


सेल्युलाईट से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार


स्वाइन फ्लू


स्वाभाविक रूप से टिप्स


स्वास्थ्य और कल्याण


स्वास्थ्य संबंधित टिप्स


स्वास्थ्य A से Z


हरी चाय


होठों की देखभाल के टिप्स


होली


अदिति राव हैदरी से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य टिप्स


आलू


कमजोरी


कोल्ड फ्लू


गर्भवती हेल्थ


ग्लो त्वचा


घरेलू नुस्खे


घरेलू फेस पैक


टखने की चोट से जल्द ठीक करने के उपाय


डेंगू बुखार


ड्रिंक


त्रिकोणासन


दिशा पटानी के ब्यूटी टिप्स


नींद


पपीते के पत्ते के फायदे


पानी


पीठ दर्द


प्रेगनेंसी डाइट


फर्टिलिटी


फर्टिलिटी संबंधी समस्या


बालों का झड़ना


ब्रेकफास्ट


ब्लड शुगर


मेटाबोलिज्म


विटामिन


विटामिन ई


विटामिन ए


विटामिन के


विटामिन डी


विटामिन बी


विटामिन सी


शुगर


सांसों की बदबू को रोकने के लिए उपाय


साइनसाइटिस


स्ट्रेच मार्क्स


हस्तमैथुन


हाथों की देखभाल के टिप्स