Views:11390

आपके मूत्र का रंग आपके सेहत के लेकर एक पूर्व चेतावनी होती है की आप गंभीर बीमारी की तरफ बढ़ रहे है। अधिकांश लोगों के मूत्र के रंग विभिन्न समय पर भिन्न-भिन्न होता है। उदाहरण के तौर पर सुबह जल्दी वाशरूम जाने पर मूत्र का रंग बाकी दिन भर के मूत्र से अधिक गहरे रंग का होता है लेकिन मूत्र रंग की चेतावनी को आप सिर्फ अधिक पानी पीने की जरूरत से नही जोड़ सकते है।

एन एच एस का मनाना है कि अगर आप निर्जलित हैं तो आपको पानी, पतली छाछ और फलों के रस का अधिक सेवन करना चाहिए। ये सभी पेय पदार्थ चाय या कॉफी की तुलना में अधिक प्रभावशाली है। फ़िजी और कोल्डड्रिंक जैसे पेय पदार्थों में चीनी अधिक रूप से शामिल होती है और चीनी की बड़ी मात्रा करके यह आपके स्वास्थ्य के लिए बिलकुल भी उचित पेय नही है। आइये जानतें है कि किस मूत्र रंग की क्या चेतवानी होती है और उसका उपचार हमें जल्द से जल्द शुरू कर देना चाहिए।



ब्राउन शराब के रंग वाला मूत्र : आपके मूत्र का गहरा भूरा रंग आपको लिवर की बीमारी से ग्रसित होने के संकेत देता है और यह गंभीर डिहाइड्रेशन के कारण है और ऐसे में बहुत पानी पीना चाहिए और मूत्र रंग की जाँच निरंतर जारी रखें।



लाल मूत्र : ज्यादातर मामलों में यह खतरनाक रंग चुकंदर खाद्य पदार्थ को अधिक खाने के प्रभाव से होता है लेकिन इसके अधिक बुरे प्रभाव भी पड़ सकते है। मूत्र में लाल रंग रक्त की एक बहुत छोटी राशि शामिल होने से होता है जो देखने में मूत्र को गुलाबी बना देता है। मूत्र का लाल रंग गुर्दे की पथरी और कैंसर रुपी अधिक गंभीर बीमारी होने के संकेत होते है। यदि मूत्र का लाल रंग कुछ दिनों से बना हुआ है तो फौरन डॉक्टर से संपर्क करें।



अधिक साफ मूत्र : मूत्र का ऐसा रंग होने पर ज्यादा चिंता करने वाली कोई बात नही होती है लेकिन कुछ मामलों में शरीर को अधिक पानी से छुटकारा पाने की जरूरत पड़ जाती है। अगर आप इस रंग को लेकर चिंतित हैं तो अधिक पानी पीने पर प्रतिबंध लगा कर प्यास लगने पर ही पानी पी कर इस रंग में सुधार ला सकते है।



चमकीले पीला मूत्र : चमकीले पीले रंग का मूत्र देख कर आम तौर पर बहुत से लोग चिंतित हो जाते हैं और होना भी चाहिए जो विटामिन की खुराक में कमी के कारण होता है। अगर आपका शरीर पोषक तत्वों को अवशोषित नहीं कर पा रहा है तो इससे छुटकारा पाना आसान नही होगा लेकिन इसमें अधिक चिंता की बात नही है क्योकि विटामिन की कमी दूर होते ही इससे राहत मिल जायेगी।



बादल रंगी मूत्र : बादल रंगी मूत्र हाल ही में नुकसान न पहुंचाने वाला यौन संबंध रखने या फिर क्रिस्टल जैसे पनीर के खाद्य पदार्थ खाने की वजह से ऐसा हो सकता है। अगर बादल रंगी मूत्र कायम रहता है तो मूत्र मार्ग में एक जीवाणु संक्रमण का संकेत हो सकता है। आमतौर पर यह गंभीर नही है लेकिन जीपी देखने लायक है।



ब्राइट ऑरेंज मूत्र : इस रंग का मूत्र बॉडी में पानी की कमी के कारण होता है इसके अतिरिक्त सुबह में सबसे नारंगी हो सकता है जब रात भर गुर्दे पेशाब से भरे रहते है। इस रंग को दूर करने के लिए आपको अधिक पानी पीने के साथ-साथ नमक कम खाने की तरफ ध्यान देना होगा। शरीर को अधिक लटकाने और नमकीन खाद्य पदार्थ खाने से हो जाता है इसलिए पानी सेवन की उचित मात्रा पर जरुर ध्यान देना चाहिए।

Health A To Z!#Urine Type

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Most Popular Facts

Most Popular Health Post

Most Popular Relationship Articles

Category

अनुष्का शर्मा से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य


अस्थमा


आँखों की देखभाल


आयुर्वेदिक होम टिप्स


आलिया भट्ट का डाइट प्लान


एनीमिया


एलर्जी


औरत के लिये


कद बढाने के टिप्स


किशोर


कैंसर


कैटरीना कैफ से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य टिप्स


कोल्ड


क्रॉस लेग पोजीसन में बैठना


गर्दन


गर्भपात


गर्भावस्था


गर्मियों में त्वचा की देखभाल


गर्मी


घुटनों के टिप्स


झाइयां


झुर्रियाँ


डायबिटीज


डिप्रेशन


डेंगू


तनाव


त्यौहार


त्वचा


त्वचा की देखभाल


दाँतों की देखभाल


दिमाग की याददाश्त और शक्ति को बढाने के टिप्स


दिल की बीमारी


दुल्हन


नींबू पानी फायदे


पसीने की दुर्गन्ध से छुटकारा पाने के टिप्स


पालन पोषण


पिंपल


पीरियड


पुरुषों के स्वास्थ्य के टिप्स


पेनिस


पेशेंट की कहानियां


पैरों की देखभाल


फलो के लाभ


फिट रहने के उपाय


बच्चे


बच्चों की देखभाल के टिप्स


बट का आकर बढ़ाने वाले टिप्स


बट मुँहासे के लिए टिप्स


बालों की देखभाल


बीज


बेबी


ब्रेस्ट


ब्रेस्ट हेल्थ टिप्स


महिला स्वास्थ्य के टिप्स


महीना वाइज टिप्स


मानसिक विकार


मुँहासे


मुहांसों से बचाव


मूत्र रंग


मेकअप


योग


वजन घटाने के टिप्स


वजन बढ़ाने के टिप्स


व्यायाम और योगा


सुंदरता से संबंधित टिप्स


सेक्स


सेक्स संबंधित समस्या


सेक्सी पीठ


सेलिब्रिटी हेल्थ टिप्स


सेल्युलाईट से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार


स्वाइन फ्लू


स्वाभाविक रूप से टिप्स


स्वास्थ्य और कल्याण


स्वास्थ्य संबंधित टिप्स


स्वास्थ्य A से Z


हरी चाय


होठों की देखभाल के टिप्स


होली


अदिति राव हैदरी से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य टिप्स


आलू


कमजोरी


कोल्ड फ्लू


गर्भवती हेल्थ


ग्लो त्वचा


घरेलू नुस्खे


घरेलू फेस पैक


जैकलिन फर्नांडीज फिटनेस सीक्रेट


टखने की चोट से जल्द ठीक करने के उपाय


डेंगू बुखार


ड्रिंक


त्रिकोणासन


दिशा पटानी के ब्यूटी टिप्स


नाखून


नींद


पपीते के पत्ते के फायदे


पानी


पीठ दर्द


प्रेगनेंसी डाइट


फर्टिलिटी


फर्टिलिटी संबंधी समस्या


बांझपन स्वास्थ्य समस्या


बालों का झड़ना


ब्रेकफास्ट


ब्लड शुगर


मेटाबोलिज्म


वजाइना को हेल्थी रखने के टिप्स


विटामिन


विटामिन ई


विटामिन ए


विटामिन के


विटामिन डी


विटामिन बी


विटामिन सी


शुगर


सांसों की बदबू को रोकने के लिए उपाय


साइनसाइटिस


स्ट्रेच मार्क्स


हस्तमैथुन


हाथों की देखभाल के टिप्स


Back to Top