स्ट्रेच मार्क्स निशान को रोकने के लिए कुछ सुझाव


Views:2140

स्ट्रेच मार्क्स के निशान को कम करने के लिए आप बहुत से तरीके अजमा सकते है लेकिन कोई ऐसा सिद्ध तरीका शायद ही मिले जो स्ट्रेच मार्क्स निशान को जड़ से मिटा दें। स्ट्रेच मार्क्स वजन बढ़ाने के बाद त्वचा में फैलाव के बाद या फिर गर्भधारण के समय बेबी बंप आने जाने के बाद पड़ते है। अगर आप गर्भवती नहीं हैं फिर भी आपकी बॉडी में स्ट्रेच मार्क्स के निशान पड़ सकते है क्योकि आपका वजन समान्य से अधिक तेजी से बढ़ रहा होता है।



स्ट्रेच मार्क्स के निशान अगर साफ़-साफ़ नजर आने लगे है तो स्ट्रेच मार्क्स त्वचा के उपरी परत तक ही सिमित नही रह गया है। अंतर्निहित परतों तक कोलेजन बन चुके है जो खिंचाव के निशान के रूप में दिखाई देते हैं। एंटी-स्ट्रेच मार्क क्रीमे जो आज बाजार में उपलब्ध है वह सभी उपरी परत पर ही कुछ हद तक काम करती है अंतर्निहित परतों में वह बेअसर साबित होती है इसलिए स्ट्रेच मार्क्स को निशान को रोकना या कम करना काफी मुश्किल हो जाता है।

बॉडी पर स्ट्रेच मार्क्स आने में आनुवंशिकी भी भूमिका निभाते है। अगर आपकी माँ की बॉडी पर स्ट्रेच मार्क्स है तो इस बात की संभावना है कि आपकी बॉडी पर भी यह निशान हो। बॉडी पर यह निशान काफी लाल भूरे रंग या पीले रंग के हो सकते है। अगर आप गर्भवती है और बच्चे को जन्म दे चुकी है तो आपकी स्ट्रेच मार्क त्वचा के रंग पर निर्भर करते है वैसे अधिकतर औरतो की बॉडी पर पतली चांदी या हल्के भूरे रंग की लाइन पड़ती है।



नीचे हम कुछ सुझाव दे रहे है जो स्ट्रेच मार्क्स के निशान की उपस्थिति को कम करने या फिर निशान होने से रोकने में मदद मिलेगी।


  • एंटीऑक्सीडेंट,विटामिन ई, विटामिन ए, ओमेगा -3 फैटी एसिड से युक्त खाद्य पदार्थो का सेवन अधिक से अधिक करें। ताजे फल, सब्जियां, अनाज, बीज और नट्स का सेवन आपके आपके लिए स्वस्थ आहार होगा।


  • अपनी त्वचा को हमेशा हाइड्रेटेड रखने व अधिक इलास्टिक युक्त करने के लिए खूब पानी पिए। आप पानी की मात्रा को शरीर में पूर्ण करने के लिए तरबूज,खीरा और लौकी आदि सब्जियां ले सकते है।


  • अगर आपका वजन कम है तो वजन बढाने की प्रक्रिया धीरे-धीरे करें।


  • वजन को नियंत्रित करने के लिए नियमित रूप से व्यायाम की मदद लें।


  • त्वचा नरम रखने में आप मॉइस्चराइजिंग क्रीम की मदद ले सकते हैं लेकिन इस पर आप इतना भरोसा नहीं कर है कि यह स्ट्रेच मार्क्स को रोक देगा। कई गर्भवती माताएं गेहूं के बीज वाला तेल उपयोग करती है, आप नारियल तेल, अरंडी का तेल, जैतून का तेल या बादाम तेल का उपयोग त्वचा को मुलायम रखने व निशान के प्रभाव को कम करने के लिए उपयोग कर सकती है।


  • विटामिन ई के कैप्सूल गर्भावस्था में लेना कई बार सुरक्षित नही होता है इसलिए डॉक्टर से बात करने के बाद ही कोई भी विटामिन की खुराक ले।


Comment Box