आँखों की नजर को अधिक समय तक स्वस्थ रखने वाले गुड फूड्स

Views:10990

वर्तमान समय में अधिकतर युवाओं की सुंदर आँखों पर चश्मे का पहरा लगा देखा जा सकता है। नजर के कमजोर होने के पीछे अपर्याप्त आहार और आंखों पर अत्याधिक तनाव है। आज बच्चों का अधिकतर समय लैपटॉप, टैबलेट या स्मार्टफोन से चिपके ही मिलते है और समाज में शिक्षा करियर की बात करें तो इतनी प्रतिस्पर्धी के कारण माता-पिता उनको आधुनिक तकनीक से जल्द जल्द तैयार कर देना चाहते है जिसकी वजह से तनाव हो जाता है तथा उसका असर आंखों की रोशनी पर पड़ता है। ऐसी स्थिति में तो स्वस्थ आंखों को बनाए रखने के लिए खानपान का रास्ता ही बेहतर रहेगा। प्रकृति के पास मनुष्य को शारीरिक रूप से फिट रखने के लिए पर्याप्त विकल्प है बस जरूरत है उनके सही समय पर उनकी उचित मात्रा की चुनाव करने का। आइयें जानतें है आंखों को स्वस्थ रखने के लिए कौन से आहार का सेवन करना उचित रहेगा।



गाजर : जब भी आँखों की रोशनी को बेहतर करने की बात होती है तो सबसे पहले गाजर खाने का ही सुझाव दिया जाता है। गाजर के नारंगी रंग में बीटा कैरोटीन की उपस्थिति होती है। बीटा कैरोटीन एक प्रकार का विटामिन ए होता है जो शरीर के अन्य भागों में कुशलता पैदा करने के साथ-साथ रेटिना को भी स्वस्थ रखता है।



हरी पत्तेदार सब्जियां : हरी और पत्तेदार सब्जियों पालक, ब्रोकोली, गोभी, मटर,एवोकैडो और पत्तेदार साग में जिएक्सेन्थिन और लूटेन एंटीऑक्सीडेंट होते है जो मांसपेशियों में गिरावट की गति में कमी लाने के साथ-साथ मोतियाबिंद होने से भी रोकता है।



अंडे की जर्दी : एक अंडे की जर्दी में अच्छी तरह से जस्ता जिएक्सेन्थिन और लूटेन होता है जो आँखों की मांसपेशियों के पतन की रफ्तार को काफी धीमा करने में सहयोग देते है।



मछली : ट्यूना, सामन, मैकेरल और ट्राउट जैसी मछलियों में ओमेगा -3 फैटी एसिड प्रचुर मात्रा में मिलता है। फैटी एसिड के बारें में यह साबित हो चुका है की वह आँखों को ड्राई नही होने देते है। इन सभी मछलियों डीएचए भी उचित रूप में मिलता है। आपको बता दे मछली में मौजूद पोषक तत्व आंख की मांसपेशी को बेहतर बनाने के साथ-साथ मोतियाबिंद होने से रोकता है।



ड्राई फ्रूट्स : ड्राई फ्रूट्स में बादाम, पिस्ता और अखरोट विटामिन ई से पैक्ड होते है और आँखों को स्वस्थ बनाए रखने का सबसे बेहतर विकल्प है। इन ड्राई फ्रूट्स में पाया जाने वाला विटामिन ई मोतियाबिंद टालने के सबसे आदर्श खाद्य पदार्थ है।



साबुत अनाज : साबुत अनाज वाले आहार लो ग्लाइसेमिक के सूचकांक है जो आंख की मांसपेशियों के पतन को रोकने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसी तरह जई, भूरे रंग के चावल,पूरी गेहूं पास्ता और रोटी जैसी खाद्य वस्तुओं में मिलने वाले नियासिन और जिंक आंखों को स्वस्थ बनाए रखने में काफी मददगार साबित होते है।



जामुन और खट्टे फल : जामुन, संतरा, नींबू और अंगूर जैसे फल जो विटामिन सी के प्रमुख स्त्रोत होते है वह आँखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में प्रमुख योगदान देते है। इन फलों के नियमित सेवन से मोतियाबिंद की रोकथाम में मदद मिलती है।



उच्च कैरोटीनॉयड खाद्य पदार्थ चूने : खरबूजा, स्ट्रॉबेरी, कद्दू, टमाटर, शिमला मिर्च और मक्का जैसे खाद्य पदार्थो में न केवल कैरोटेनॉयड्स के बेहतरीन स्रोत हैं बल्कि यह विटामिन ए और सी से भरपूर होते हैं जो आँखों के स्वास्थ्य के संरक्षण में बहुत मददगार होते है। आँखों के स्वास्थ्य को लंबे समय तक बनाए रखने के लिए इन खाद्य पदार्थो को अवश्य अपनी थाली में सजाएं।



सूरजमुखी के बीज : सूरजमुखी के बीज जिंक और विटामिन ई के बहुत अच्छा स्रोत हैं। जिंक प्रकाश के हानिकरक प्रभावों से आंखों की रक्षा करने में मदद करता है। इस प्रकार आंखों के स्वास्थ्य को कायम रखने के लिए यह महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

और पढ़े

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Category

अनुष्का शर्मा से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य


अस्थमा


आँखों की देखभाल


आयुर्वेदिक होम टिप्स


आलिया भट्ट का डाइट प्लान


एनीमिया


एलर्जी


औरत के लिये


कद बढाने के टिप्स


किशोर


कैंसर


कैटरीना कैफ से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य टिप्स


कोल्ड


क्रॉस लेग पोजीसन में बैठना


गर्दन


गर्भपात


गर्भावस्था


गर्मियों में त्वचा की देखभाल


गर्मी


घुटनों के टिप्स


झाइयां


झुर्रियाँ


डायबिटीज


डिप्रेशन


डेंगू


तनाव


त्यौहार


त्वचा


त्वचा की देखभाल


दाँतों की देखभाल


दिमाग की याददाश्त और शक्ति को बढाने के टिप्स


दिल की बीमारी


दुल्हन


नींबू पानी फायदे


पसीने की दुर्गन्ध से छुटकारा पाने के टिप्स


पालन पोषण


पिंपल


पीरियड


पुरुषों के स्वास्थ्य के टिप्स


पेनिस


पेशेंट की कहानियां


पैरों की देखभाल


फलो के लाभ


फिट रहने के उपाय


बच्चे


बच्चों की देखभाल के टिप्स


बट का आकर बढ़ाने वाले टिप्स


बट मुँहासे के लिए टिप्स


बालों की देखभाल


बीज


बेबी


ब्रेस्ट


ब्रेस्ट हेल्थ टिप्स


महिला स्वास्थ्य के टिप्स


महीना वाइज टिप्स


मानसिक विकार


मुँहासे


मुहांसों से बचाव


मूत्र रंग


मेकअप


योग


वजन घटाने के टिप्स


वजन बढ़ाने के टिप्स


व्यायाम और योगा


सुंदरता से संबंधित टिप्स


सेक्स


सेक्स संबंधित समस्या


सेक्सी पीठ


सेलिब्रिटी हेल्थ टिप्स


सेल्युलाईट से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार


स्वाइन फ्लू


स्वाभाविक रूप से टिप्स


स्वास्थ्य और कल्याण


स्वास्थ्य संबंधित टिप्स


स्वास्थ्य A से Z


हरी चाय


होठों की देखभाल के टिप्स


होली


अदिति राव हैदरी से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य टिप्स


आलू


कमजोरी


कोल्ड फ्लू


गर्भवती हेल्थ


ग्लो त्वचा


घरेलू नुस्खे


घरेलू फेस पैक


टखने की चोट से जल्द ठीक करने के उपाय


डेंगू बुखार


ड्रिंक


त्रिकोणासन


दिशा पटानी के ब्यूटी टिप्स


नींद


पपीते के पत्ते के फायदे


पानी


पीठ दर्द


प्रेगनेंसी डाइट


फर्टिलिटी


फर्टिलिटी संबंधी समस्या


बालों का झड़ना


ब्रेकफास्ट


ब्लड शुगर


मेटाबोलिज्म


विटामिन


विटामिन ई


विटामिन ए


विटामिन के


विटामिन डी


विटामिन बी


विटामिन सी


शुगर


सांसों की बदबू को रोकने के लिए उपाय


साइनसाइटिस


स्ट्रेच मार्क्स


हस्तमैथुन


हाथों की देखभाल के टिप्स