साइनसाइटिस के लक्षण, रोकने के उपाय और घरेलू उपचार से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण टिप्स

Views:3700

साइनसाइटिस एक सूजन या ऊतक सूजन है साइनस अस्तर की साधारण भाषा में बोले तो इस रोग में नाक की हड्डी बढ़ जाती है। स्वस्थ साइनस हवा के साथ भर जाती है और जब वह तरल पदार्थ, कीटाणुओं से ब्लॉक हो जाती है तो संक्रमण पैदा होने की उम्मीद बढ़ जाती है। ऐसी स्थिति जुकाम, एलर्जी, नेजल पोलिप (नाक में होने वाली गठिया) जैसे रोग बन जाते है।



वैसे तो यह धूल और एलर्जी से होने वाली बिमारी है पर कई बार ठंड लग जाने के कारण साइनसाइटिस में होने वाला दर्द सिर नाक कान ऑंखों से होता हुआ गले तक जाता है। आइयें जानते है साइनसाइटिस के लक्षणों बचाव और इस रोग से राहत देने वाले कुछ बेहतरीन सस्ते उपचारों के बारें में।

साइनसाइटिस के लक्षण :

* साइनसाइटिस में एक नाक या दोनों नाक बंद होते है।
* अगर सिर गले जबड़े या चेहरे में दर्द है तो यह साइनसाइटिस के प्रमुख लक्षणों में है।
* गाढे कफ का होना।
* खाँसी से सीने में जलन और दर्द का होना।
* स्वाद और सूंघने की क्षमता का धीरे धीरे कम होना।
* बुखार।
* शरीर में हमेशा थकान बनी रहना।
* मुंह से बदबू आना।



साइनसाइटिस से बचाव के उपाय :

+ सर्दी या एलर्जी की वजह से तुरंत नाक में तरल पदार्थ या कफ बनने लगता है इसलिए साइनसाइटिस से बचने के लिए इनसे बच कर रहे।
+ शुष्क हवा में साँस लेने बचे। घर पर एक हुमिडिफिएर के उपयोग पर विचार करें।
+ एयर कंडीशनर अधिक उच्च या निम्न मौसम के तामपान को स्थिर करने में मदद देते है। इलेक्ट्रोस्टैटिक फिल्टर और वातानुकूलन उपकरण हवा से एलर्जी कारकों को दूर करने में सहायक होते हैं।
+ तंबाकू साइनसाइटिस और नेजल पोलिप के प्रमुख कारणों में है इसलिए इसके सेवन और धुंएं से बच कर रहे। अपने घर और कार्यस्थल सिगरेट, सिगार पी रहे लोगो से उस वक्त दूरी बना ले जब वह इसका सेवन कर रहे हो।
+ जुकाम या अन्य वायरल और श्वसन संक्रमण लोगो के संपर्क में आने से जितना हो सके उतना बच कर रहे। अक्सर हम संक्रमित हाथ मिलाते है और अनजाने में रोगों के संपर्क में आ जाते है।



+ स्विमिंग पूल में प्रयोग होने वाला क्लोरीन साइनस की परत को परेशान कर सकता है। पानी नासिका मार्ग से साइनस के लिए मजबूर करता है।
+ बैक्टीरियल और वायरल संक्रमण साइनसाइटिस का सबसे आम कारण होते हैं। साबुन और पानी से बार-बार हाथ धोने के रूप में अपने स्वच्छता को निगरानी दे सकते है।
+ दूध जैसे डेयरी उत्पादों की अत्यधिक खपत बलगम को गाढ़ा बनाता है जिसकी वजह से सिर और गले में दर्द उत्पन्न होता है।
+ सर्दी और फ्लू के जल्द इलाज के दौरान टीका लगाया जाता है इसकी वजह से भी आपको साइनसाइटिस हो सकता है।
+ तनाव से भी साइनसाइटिस हो सकता है इसलिए तनावमुक्त जीवन का प्रयास करें।
+ यदि आपको एलर्जी है तो फौरन अपने डॉक्टर से विचार करें या फिर नाक ड्रॉप या इनहेलर का उपयोग लंबे सफर से पहले आपको परेशानी से बचा सकता है।
+ पानी शरीर में नमी की मात्रा बढ़ जाती है तो बलगम को रोकने में मदद मिलती है।

साइनसाइटिस के घरेलू उपचार :

भाप से करें साइनसाइटिस का इलाज : अगर आप गर्म पानी के अंदर तुलसी के पत्तों का प्रयोग करके उसकी भाप लेते है तो आपको साइनसाइटिस से कम समय में ही राहत मिल जाएंगी।



योगा की मदद लें : प्राणायाम और कपालभाती साइनसाइटिस के इलाज में काफी प्रभावी साबित हो सकते है इसलिए नियमित रूप से इस योग का अभ्यास करें।



नीलगीरी : नीलगीरी तेल में एन्टी बैक्टिरीअल, एन्टीसेप्टिक और एन्टीफंगल गुण होते है जिसके कारण कफ़ और साइनसाइटिस के दर्द से आपको राहत दिलाने में कामयाब होता है। गर्म पानी में नीलगीरी तेल के कुछ बूंदे डालकर भाप लेना काफी लाभकारी होगा।



अजवाइन : नीलगीरी तेल की तरह ही अजवाइन में एन्टी बैक्टिरीअल, एन्टीसेप्टिक और एन्टीफंगल गुण होते है और यह कफ़ में कमी लाकर साइनसाइटिस के दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए कर सकते है। अजवाइन को अच्छी तरह से भून ले उसके बाद साफ कपडे में बांध कर उसका प्रयोग उस स्थान पर करें जहाँ साइनसाइटिस की वजह से दर्द उत्पन्न हो रहा हो।



जीरा : भारत में जीरा एक अहम मसाला है जिसका प्रयोग भोजन में तड़का लगाने के लिए होता है। जीरा कनजेस्चन को कम करने और इम्यून सिस्टम को बढाने के लिए उपयोग में लाया जा सकत है। जीरा साइनसाइटिस के संक्रमण पर प्रभावी रूप से काम करता है। लगभग एक गिलास पानी में जीरा के कुछ दाने, अदरक और तुलसी के पत्तों को उबाल लें उसके बाद नियमित रूप से इसका लाभ लें आप एक दिन दो बार इसका सेवन कर सकते है।



एक भाप से भरा शॉवर, और बेहद शांत, सूखी हवा से बच कर आप साइनसाइटिस के प्रभाव को कम कर सकते है।

खारे पानी से नाक धो कर नासिका मार्ग को खुला रखने और बलगम बैक्टीरिया को बाहर निकाला जा सकत है।

शराब से बचें क्योकि नाक की नसों और साइनस अस्तर की सूजन की प्रमुख वजह बन सकती है।

Cold!#Exercise And Yoga!#Fitness Tips!#Food Benefits!#Health A To Z!#Health And Wellness!#Health Care Tips!#Sinusitis!#Women Health!#Yoga

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Most Popular Facts

Most Popular Health Post

Most Popular Relationship Articles

Category

अनुष्का शर्मा से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य


अस्थमा


आँखों की देखभाल


आयुर्वेदिक होम टिप्स


आलिया भट्ट का डाइट प्लान


एनीमिया


एलर्जी


औरत के लिये


कद बढाने के टिप्स


किशोर


कैंसर


कैटरीना कैफ से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य टिप्स


कोल्ड


क्रॉस लेग पोजीसन में बैठना


गर्दन


गर्भपात


गर्भावस्था


गर्मियों में त्वचा की देखभाल


गर्मी


घुटनों के टिप्स


झाइयां


झुर्रियाँ


डायबिटीज


डिप्रेशन


डेंगू


तनाव


त्यौहार


त्वचा


त्वचा की देखभाल


दाँतों की देखभाल


दिमाग की याददाश्त और शक्ति को बढाने के टिप्स


दिल की बीमारी


दुल्हन


नींबू पानी फायदे


पसीने की दुर्गन्ध से छुटकारा पाने के टिप्स


पालन पोषण


पिंपल


पीरियड


पुरुषों के स्वास्थ्य के टिप्स


पेनिस


पेशेंट की कहानियां


पैरों की देखभाल


फलो के लाभ


फिट रहने के उपाय


बच्चे


बच्चों की देखभाल के टिप्स


बट का आकर बढ़ाने वाले टिप्स


बट मुँहासे के लिए टिप्स


बालों की देखभाल


बीज


बेबी


ब्रेस्ट


ब्रेस्ट हेल्थ टिप्स


महिला स्वास्थ्य के टिप्स


महीना वाइज टिप्स


मानसिक विकार


मुँहासे


मुहांसों से बचाव


मूत्र रंग


मेकअप


योग


वजन घटाने के टिप्स


वजन बढ़ाने के टिप्स


व्यायाम और योगा


सुंदरता से संबंधित टिप्स


सेक्स


सेक्स संबंधित समस्या


सेक्सी पीठ


सेलिब्रिटी हेल्थ टिप्स


सेल्युलाईट से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार


स्वाइन फ्लू


स्वाभाविक रूप से टिप्स


स्वास्थ्य और कल्याण


स्वास्थ्य संबंधित टिप्स


स्वास्थ्य A से Z


हरी चाय


होठों की देखभाल के टिप्स


होली


अदिति राव हैदरी से जुड़े सौंदर्य और स्वास्थ्य टिप्स


आलू


एसिडिटी का कारण लक्षण और इलाज


कमजोरी


कोल्ड फ्लू


गर्भवती हेल्थ


ग्लो त्वचा


घरेलू नुस्खे


घरेलू फेस पैक


जैकलिन फर्नांडीज फिटनेस सीक्रेट


टखने की चोट से जल्द ठीक करने के उपाय


डेंगू बुखार


ड्रिंक


त्रिकोणासन


दिशा पटानी के ब्यूटी टिप्स


नाखून


नींद


पपीते के पत्ते के फायदे


पानी


पीठ दर्द


प्रेगनेंसी डाइट


फर्टिलिटी


फर्टिलिटी संबंधी समस्या


बांझपन स्वास्थ्य समस्या


बालों का झड़ना


ब्रेकफास्ट


ब्लड शुगर


मेटाबोलिज्म


वजाइना को हेल्थी रखने के टिप्स


विटामिन


विटामिन ई


विटामिन ए


विटामिन के


विटामिन डी


विटामिन बी


विटामिन सी


शुगर


सांसों की बदबू को रोकने के लिए उपाय


साइनसाइटिस


स्ट्रेच मार्क्स


स्तनपान


हस्तमैथुन


हाथों की देखभाल के टिप्स


Back to Top