दांतों की समस्या और कैविटीज़ से बचने के लिए टिप्स


Views:5250

जब भी बात दांतों की सफाई की होती है तो प्रक्रतिक रूप से हमारा ध्यान सीधे ब्रश की तरफ जाता है। मुँह की स्वच्छता बनाए रखने का सीधा लिंक हम अच्छे तरह से ब्रश करने की कला की तरफ ले जाते है। वैसे तो वास्तविकता में सच यह है की हमारे आहार कैविटीज़ को रोकने के लिए और उनको मोतियों सा सफेद बनाए रखने में के अहम भूमिका निभाते है।

आइयें पहले यह जानतें है की दांत में कैविटीज़ कैसे उत्पन्न होती है।



भोजन के सेवन के बाद हमारे मुंह में भोजन में चीनी और कार्बोहाइड्रेट बदलने से मुंह में बैक्टीरिया या एसिड का रूप ले लेते है। एसिड हमारे दांत पर हमला करके क्षय प्रक्रिया शुरू कर देते है लेकिन सबसे अच्छी खबर यह है की हम आसानी से अपने खाने की आदतों में सुधार करके दांतों को नुकसान होने से बचाया जा सकता है।



दांत के लिए लाभकारी भोजन: फलों और सब्जियों को चबाने से लार निकलती है जो एसिड धोने का काम करती है। सेब और गाजर इस क्रम में सबसे बेस्ट फ़ूड है। कैल्शियम से भरपूर फूड्स जैसे पनीर, दूध, दही यह सभी सुपरफूड्स मजबूत हड्डियों और दांतों के गठन में काफी मदद करते है। खाद्य पदार्थ में अनाज फलियां, अंकुरित, दुबला मांस, मछली और मुर्गी दांत स्वास्थ्य के लिए काफी बेहतर होती है।



दाँतों को इन खाद्य पदार्थों से बचा कर रखें : कुकीज़ बिस्कुट, केक आदि जिनमें भी उच्च चीनी सामग्री है उनका सेवन कम से कम करें क्योकि चीनी एसिड उत्पादन करता है जो दांतों को हानि पहुंचाते है। भोजन के बीच में स्नैक या चिप्स लेने की आदत अत्यंत हानिकारक है।

मीठा पेय और चीनी युक्त पेय पदार्थों का लगातार सेवन करने से दांतों के गिरने या कमजोर होने का जोखिम बना रहता है। अगर आप उपर दिए पदार्थों का सेवन कर भी लेते है तो हमको कुल्ला करना कभी नही भूलना चाहिए।



पानी का प्रयोग : अगर आप दिन भर में 12 से 14 गिलास पानी पीते है तो फ्लोराइड के स्तर को काबू में रखा जा सकता है। पानी की पर्याप्त मात्रा लेने पर आप अधिक जंक फूड और फ़ास्ट फ़ूड से बचने में भी मदद मिलती है। शराब सेवन का ख्याल आपको हमेशा के लिए त्याग देना चाहिए।


नियमित रूप से दांत स्वास्थ्य की जाँच के साथ-साथ आप उचित रूप से दिन में बार ब्रश करते है तथा बेहतरीन भोजन करते है तो अपनी सुंदर स्वस्थ मुस्कान को अधिक उम्र तक कायम रख सकते है।


Comment Box